कोरोना वायरस की वजह से दुनिया में ४३ हजार लोग संक्रमित

0
दुनिया में ४३ हजार लोग संक्रमित

पेइचिंग (एजेंसियां)। ॥ चीन से फैले कोरोना वायरस के प्रकोप ने दुनियाभर के ४३ हजार से ज्यादा लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। वैश्विक स्वास्थ्य अधिकारियों के ताजा आंकड़़ों के मुताबिक मंगलवार तक चीन में १‚०१६ लोगों की मौत हुई और ४२‚६३८ मामलों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके अलावा हांगकांग में एक व्यक्ति की मौत समेत ४२ मामले सामने आए हैं। मकाउ में १० मामलों की पुष्टि हुई है। ॥ चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक सोमवार मध्यरात्रि तक कोरोना वायरस के ३५३६ नए मामले सामने आए हैं और केवल एक दिन में १०८ लोगों की मौत हुई है। हुबेई प्रांत में १०३ ‚ पेइचिंग‚ तियानजिन‚ हेइलोंगजियांग‚ अनहुई और हेनान में एक–एक व्यक्ति की मौत हुई है॥। आयोग के अनुसार १० फरवरी की मध्यरात्रि तक उसे ३१ प्रांतों से जानकारी मिली‚ जिसके अनुसार कोरोना वायरस के ४२६३८ मामलों की पुष्टि हो चुकी है जिसमें से ७३३३ लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। हांगकांग में ४२ संक्रमण के नए मामले दर्ज किए गए। यहां एक व्यक्ति की इससे मौत हुई है। मकाऊ में १० और ताइवान में १८ मामलों की पुष्टि हुई है। मकाऊ और ताइवान में एक–एक मरीज को ठीक होने के बाद अस्पताल से छु^ी दे दी गई है। दिसम्बर २०१९ में चीन के वुहान शहर में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था जिसके बाद से अब तक यह २५ से अधिक देशों में यह फैल चुका है। सबसे ज्यादा मौत चीन के हुबेई प्रांत में हुई हैं जहां कोरोना वायरस से हो रही बीमारी का पिछले साल दिसंबर में सबसे पहले पता चला था। ॥ द वुहान (आईएएनएस)। ॥ चीन के शान्शी प्रांत में नोवेल कोरो वायरस निमोनिया से संक्रमित एक महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया‚ जिसमें इस संक्रमण का प्रभाव देखने को नहीं मिला। अधिकारियों ने यह जानकारी दी॥। समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के मुताबिक‚ सोमवार को शिआन में जियाओतोंग विश्वविद्यालय के दूसरे संबद्ध अस्पताल में ३३ वर्षीय इस महिला ने एक बच्ची का जन्म दिया। मंगलवार को रोग नियंत्रण और रोकथाम के लिए प्रांतीय केंद्र की ओर से कहा गया कि नोवेल कोरोनावायरस के साथ इस बच्ची का पहला न्यूक्लिक एसिड टेस्ट का परिणाम नेगेटिव निकला। फिलहाल बच्ची को गहन चिकित्सा विभाग में रखा गया है और अगले कुछ दिनों में उसका दोबारा परीक्षण किया जाएगा॥। इससे संबंधित उचित देखभाल व उपचार के लिए मां और बच्चे अभी अलग–अलग वार्ड में रखा गया है। अस्पताल के चिकित्सा प्रशासन विभाग के निदेशक लियू मिंग ने कहा कि फिलहाल दोनों की हालत स्थिर है। लियू के मुताबिक‚ ७ फरवरी को शान्शी के शांग्लू शहर के केंद्रीय अस्पताल से महिला को एक दूसरे अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया जहां चिकित्सा विशेषज्ञों के एक समूह द्वारा कई तरह के उपचार किए गए और कई तैयारियां की गई ‚ ताकि मां और बच्चे की सुरक्षा को सुनिश्चित किया जा सके॥। पुरी के समुद्र तट पर सोमवार को कोरोना वायरस के विरुद्ध चीन के अभियान के साथ एकजुटता दर्शाती कलाकृति बनाते रेत आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक॥।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here