Warning: A non-numeric value encountered in /home/customer/www/sabkuchhindihai.com/public_html/wp-includes/functions.php on line 74
राहुल गांधी का मोदी सरकार पर फिर हमला, पूछे 'ये' तीन सवाल - राहुल गांधी का मोदी सरकार पर फिर हमला, पूछे 'ये' तीन सवाल -

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर फिर हमला, पूछे ‘ये’ तीन सवाल

Share this News (खबर साझा करें)

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार को तीन सवाल पूछे हैं । राहुल गांधी ने ये सवाल चीन की गलवान घाटी से सैनिकों की वापसी और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की चीनी पार्टी के साथ हुई चर्चाओं के बारे में पूछे हैं। चर्चा के दौरान, राहुल गांधी ने पूछा कि भारत ने दोनों देशों के बीच यथास्थिति बनाए रखने पर ध्यान क्यों नहीं दिया।

अपने ट्वीट में राहुल गांधी ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और चीनी स्टेट काउंसिल वांग के बीच बातचीत के संबंध में दोनों पक्षों द्वारा जारी एक बयान साझा किया। राष्ट्रहीत उच्चतम है। राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा कि इसे राष्ट्रहीत संरक्षित करना भारत सरकार का कर्तव्य है। तब जबकि …

राहुल गांधी का मोदी सरकार पर फिर हमला, पूछे  'ये' तीन सवाल

1. यथास्थिति पर कोई दबाव क्यों नहीं बनाया गया ?

2.चीन हमारे क्षेत्र में 20 निहत्थे सैनिकों की हत्या को कैसे जायज ठहरा रहा है?

3.गालवन घाटी में हमारी क्षेत्रीय संप्रभुता का उल्लेख क्यों नहीं किया गया है?

ऐसे सवाल राहुल गांधी से पूछे गए हैं।

विदेश सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने सोमवार को कहा कि गलवान घाटी में शांति बनाए रखने के लिए चीनी राज्य पार्षद वांग यी के साथ बातचीत हुई। सोमवार को यह भी बताया गया कि दोनों देशों ने गाल्वन घाटी में नियंत्रण रेखा (एलओसी) से अपने सैनिकों को हटा लिया है।

सोमवार 6 जून को राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला था। राहुल गांधी ने कहा था कि हार्वर्ड बिजनेस स्कूल में विफलताओं पर भविष्य के अध्ययन में भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस, संप्रदाय और जीएसटी का मुकाबला करने के लिए उठाए गए कदम भी शामिल होंगे।

इससे पहले राहुल गांधी ने एक वीडियो ट्वीट किया था। इस वीडियो में लद्दाख के कुछ नागरिक चीनी घुसपैठ के बारे में बात कर रहे थे। वीडियो में चीनी घुसपैठ के साथ-साथ उनके आंदोलनों की कुछ तस्वीरें भी दिखाई गईं। राहुल गांधी अपने ट्वीट में कहते हैं, ‘देशभक्त लद्दाख के नागरिक चीनी घुसपैठ के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। वे चिल्ला चिल्लाकर चेतावनी दे रहे हैं। उनकी चेतावनी को नजरअंदाज करना महंगा पड़ सकता है। कृपया उन्हें भारत की खातिर सुनें। ‘

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *