प्रसिद्ध चित्रकार और मूर्तिकार सतीश गुजराल का निधन

0
99
Famous painter and sculptor Satish Gujral dies

Famous painter and sculptor Satish Gujral dies

हमारे देश के जाने-माने चित्रकार और मूर्तिकार सतीश गुजराल का निधन हो गया। वह 94 साल का थे । वह पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल के भाई थे। उन्हें कला के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए भारत सरकार द्वारा पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके अलावा, सतीश गुजराल को तीन बार राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। दो राष्ट्रीय पुरस्कार चित्रकला योगदान के लिए और एक राष्ट्रीय पुरस्कार मूर्तिकला योगदान के लिए दिया गया है। सतीश गुजराल का जन्म 25 दिसंबर 1925 को हुआ था। उन्होंने लाहौर के मेयो स्कूल ऑफ आर्ट से मूर्तिकला और ग्राफिक डिजाइन में प्रशिक्षिण लिया था।

1944 में, वह मुंबई के लिए रवाना हुए। उसके बाद उन्होंने जे. जे. स्कूल ऑफ आर्ट से कला का अध्ययन शुरू किया लेकिन 1947 में वे बीमार हो गए। इसलिए उन्हें अपनी शिक्षा आधी करनी पड़ी। वे अपनी अलग शैली की पेंटिंग के लिए जाने जाते हैं। उनके चित्र भावनात्मक हैं। सतीश गुजराल को कई अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है। इन पुरस्कारों में मैक्सिको के लियो नार्डो डी विंसी,औ बेल्जियम के राजा की और से गार्ड ऑफ द क्राउन शामिल हैं।

विविध आकृतियों से चित्र को सामने लाना यह उनके कला की खास बात थी । पशु, पक्षी उनके चित्रों का एक प्रमुख हिस्सा हैं। वह अपने इतिहास, लोककथाओं, पौराणिक कथाओं, प्राचीन भारतीय संस्कृति और अवसरों को अपने कैनवस पर विभिन्न धर्मों तक ले आए थे। कला के क्षेत्र में एक अलग ऊंचाई पर पहुंचने वाले कलाकार ने अब हमेशा के लिए इस दुनिया को अलविदा कह दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here