26/11 के अतिरेकियों को हिंदू साबित करनेकी चाल थी ।भूतपूर्व पोलिस आयुक्त राकेश मारियां के किताब से बवाल

0
59
26/11 च्या अतिरेकियों को हिंदू साबित करनेकी चल थी ।भूतपूर्व पोलिस आयुक्त राकेश मारियां के किताब से बवाल
  • मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी किताब ‘लेट मी से इट नाउ’ में यह दावा किया।
  • आईएसआई ने कसाब को जेल में मारने के लिए दाऊद इब्राहिम के गिरोह को सुपारी दी थी।

मुंबई – 10 साल पहले, अजमल कसाब सहित पांच आतंकवादियों ने मुंबई पर हमला किया था और रक्तपात किया था। मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने अपनी किताब ‘लेट मी सी इट नाउ’ में कहा कि वह उन्हें हिंदू आतंकवादी घोषित करने की तोयबाने योजना बना रहा था ।

किताब के अनुसार, कसाब को पुलिस द्वारा समीर चौधरी नाम का एक फर्जी पहचान पत्र मिला। उसके हाथ में लाल धागा बंधा था। इसी तरह के धागे और आईडी कार्ड अन्य आतंकवादियों के हाथों में पाए गए थे। यदि सभी चरमपंथी मारे गए होते तो वह पहचान पत्र से वह हिन्दू है ये साबित हो जाता । हालांकि, कसाब को जिंदा पाए जाने के बाद ये कोशिश नाकाम हुई । इसके बाद, कसाब को मारने के लिए दाऊद इब्राहिम को सुपारी दी गई थी। उन्होंने यह भी दावा किया कि सुपारी का मकसद मुंबई हमले के सबूत को नष्ट करना था।

शीना बोरा मामले की फिर से जांच: गृह मंत्री देशमुख

शीना बोरा मामले में मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को गलत जानकारी दी। इसलिए उनकी तबादला कर दिया गया। मारिया ने यह भी आरोप लगाया कि कुछ जानकारी को देवेन भारती ने दबा दिया था। गृह मंत्री अनिल देशमुख ने जांच की समीक्षा के लिए कहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here