लॉकडाउन के नियम तोड़कर वाधवान परिवार को फार्म हाउस भेजा ; IPS अमिताभ गुप्ता को छुट्टी पर भेजा गया , जाँच जारी

0
लॉकडाउन के नियम तोड़कर वाधवान परिवार को फार्म हाउस भेजा ; IPS अमिताभ गुप्ता को छुट्टी पर भेजा गया , जाँच जारी

लॉकडाउन के नियम तोड़कर वाधवान परिवार को फार्म हाउस भेजा ; IPS अमिताभ गुप्ता को छुट्टी पर भेजा गया , जाँच जारी

मुंबई: कोरोना का और लॉकडाउन के दरमियान एक उच्च अधिकारी की लापरवाही सामने आई है। गृह विभाग के प्रधान सचिव (विशेष) के पद पर तैनात आईपीएस अधिकारी अमिताभ गुप्ता ने डीएचएफएल के प्रवर्तकों कपिल वाधवान और धीरज वाधवान के परिवारों के लिए एक आपातकालीन पास जारी किया। इस पास के आधार पर बुधवार को वाधवान परिवार के 23 लोग मुंबई से 250 किलोमीटर दूर महाबलेश्वर स्थित अपने फार्महाउस पर पहुंचे। इस समय उनके साथ गार्ड और कुक भी थे। आईपीएस गुप्ता को लापरवाही के कारण जबरन छुट्टी पर भेज दिया गया है।

गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को कहा कि वधावन परिवार के 23 सदस्य महाबलेश्वर कैसे पहुंचे इसकी जांच होगी। देशमुख ने ट्वीट किया, “ मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से चर्चा करने के बाद, उन्हें मुख्य सचिव गुप्ता के खिलाफ जांच शुरू होने तक जबरन छुट्टी पर भेजा जा रहा है। कानून सभी के लिए समान है।

IPS गुप्ता ने पत्र में क्या लिखा?

IPS गुप्ता ने पत्र में क्या लिखा?अमिताभ गुप्ता के आधिकारिक पत्र में कहा गया है, “मैं उस व्यक्ति को अच्छी तरह से जानता हूं। क्योंकि वह मेरा पारिवारिक मित्र है और पारिवारिक आपातकाल के कारण वह खंडाला से महाबलेश्वर की ओर बढ़ रहा है।” पत्र में 5 वाहनों का विवरण है। इस बीच, मुख्यमंत्री ने गुप्ता के फैसले पर नाराजगी व्यक्त की है। क्योंकि सरकार सभी लोगों को घर में रहने की सलाह दे रही है।

क्वारंटाइन समाप्त होने के बाद सीबीआई कार्रवाई करेगी

सीबीआई ने कपिल और धीरज वाधवन के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था। वाधवान बंधु यस बैंक और डीएचएफएल धोखाधड़ी मामले में आरोपी हैं। उन्हें अभी क्वारंटाइन किया गया है । उनके क्वारंटाइन अवधि समाप्त होने के बाद सीबीआई उन्हें हिरासत में ले सकती है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here