कोरोना: ट्रम्प द्वारा दावा की गई: ‘संजीवनी दवा’ hydroxychloroquine के कारण मृत्यु की संख्या बढ़ी

Share this News (खबर साझा करें)

वाशिंगटन: कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली मलेरिया की दवा hydroxychloroquine tablets को कोरोना संक्रमण से होने वाली मौतों की संख्या में वृद्धि से जोड़ा गया है। डोनाल्ड ट्रम्प ने संयुक्त राज्य अमेरिका में स्वास्थ्य विशेषज्ञों की एक चेतावनी के बाद ड्रग hydroxychloroquine tablets का उपयोग करने पर जोर दिया था।

hydroxychloroquine

वैज्ञानिक पत्रिका द लैकसेंट में प्रकाशित एक रिपोर्ट में यह कहा गया है। लैकैंटे के शोध के अनुसार, hydroxychloroquine tablets कोरोना संक्रमण रोग से होने वाली मौतों का 18 प्रतिशत देता है। क्लोरोक्वीन दिए जाने वाले रोगियों का अनुपात 16.4 प्रतिशत है। इसलिए, जिन रोगियों को ये दवाएं नहीं दी गईं उनमें मृत्यु दर 9% थी। कोरोना संक्रमण के रोगियों में मृत्यु दर अधिक पाई गई है जिन्हें hydroxychloroquine tablets या malaria medicine दवाओं के साथ इलाज किया गया है। विशेषज्ञों ने नैदानिक परीक्षण के बिना दवा hydroxychloroquine tablets के उपयोग का विरोध किया।

शोधकर्ताओं का कहना है कि मलेरिया के मरीजों के लिए ड्रग hydroxychloroquine का इस्तेमाल कारगर है। मलेरिया के अलावा गठिया से संबंधित कुछ रोगों में यह दवा प्रभावी है। द लैकेंट में प्रकाशित अध्ययन में लगभग 96,000 हजार लोगों को देखा गया। लगभग 15,000 रोगियों को hydroxychloroquine या इसी तरह की दवाएं दी गईं। इसके अलावा, इनमें से कुछ रोगियों को hydroxychloroquine या सिर्फ एंटीबायोटिक दवाओं के साथ एंटीबायोटिक दिए गए थे।

इलाज के लिए क्लोरोक्वीन से इलाज कराने वाले मरीजों की बड़ी संख्या में अस्पताल में मौत हो गई। शोध से पता चला है कि इन रोगियों को दिल से संबंधित बीमारियां भी हैं। ड्रग hydroxychloroquine का उपयोग मलेरिया के खिलाफ किया जाता है। हृदय रोग विशेषज्ञों ने आशंका व्यक्त की थी कि दवा रोगियों के दिल को प्रभावित कर सकती है। ऐसी चर्चा है कि ट्रम्प प्रशासन द्वारा इसकी अनदेखी की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *