Warning: A non-numeric value encountered in /home/customer/www/sabkuchhindihai.com/public_html/wp-includes/functions.php on line 74
coronil: महाराष्ट्र में coronil की बिक्री प्रतिबंधित ; बाबा रामदेव को झटका - coronil: महाराष्ट्र में coronil की बिक्री प्रतिबंधित ; बाबा रामदेव को झटका -

coronil: महाराष्ट्र में coronil की बिक्री प्रतिबंधित ; बाबा रामदेव को झटका

Share this News (खबर साझा करें)

मुंबई: राजस्थान सरकार ने जहां योग गुरु बाबा रामदेव की पतंजलि संस्था द्वारा शुरू की गई दवा ‘कोरोनिल’ (coronil) पर प्रतिबंध लगा दिया है, वहीं महाराष्ट्र सरकार ने भी इस दवा पर प्रतिबंध लगा दिया है। गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि महाराष्ट्र में कोरोनिल दवाओं की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। इसलिए, यह बाबा रामदेव के लिए एक बड़ा झटका माना जाता है।

गृह मंत्री अनिल देशमुख ने ट्वीट किया कि बाबा रामदेव द्वारा निर्मित ड्रग कोरोनिल पर प्रतिबंध लगाया जा रहा है। कोरोनिल के नैदानिक परीक्षण का कोई सबूत नहीं है। जयपुर में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज यह जांच करेगा कि क्या दवा का परीक्षण किया गया था या नहीं । “इसलिए, हम बाबा रामदेव को चेतावनी दे रहे हैं कि महाराष्ट्र सरकार राज्य में नकली दवाओं की बिक्री कभी नहीं होने देगी,” उन्होंने कहा। इसलिए, चूंकि महाराष्ट्र में कोरोनिल दवाओं की बिक्री नहीं की जाएगी, इसलिए बाबा रामदेव को बड़ा वित्तीय झटका लगने की संभावना है।

coronil-baba-ramdev

राजस्थान सरकार ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि अगर कोई भी कोरोना के लिए किसी दवा को बेचने का दावा करता है, तो विक्रेताओं पर कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले, आयुष मंत्रालय ने भी बाबा रामदेव की दवा पर सवाल उठाया था। दवा के लिए बाबा रामदेव के विज्ञापन पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया था। आयुष मंत्रालय भी दवा की जांच कर रहा है। केंद्र सरकार ने निर्देश दिया है कि कोई भी कोरोना के नाम पर दवा नहीं बना सकता है और न ही उसका प्रचार कर सकता है। साथ ही, केंद्र पहले ही स्पष्ट कर चुका है कि आयुष मंत्रालय की वैधता के बाद ही कोरोना पर दवाओं की बिक्री की अनुमति दी जाएगी। उत्तराखंड में आयुर्वेद ड्रग्स लाइसेंस अथॉरिटी द्वारा पतंजलि को नोटिस भेजा गया था। इस मामले में पतंजलि से स्पष्टीकरण मांगा गया है।

उत्तराखंड के आयुर्वेद विभाग ने भी पतंजलि की दवा को गलत बताया था। आयुर्वेद विभाग ने कहा था कि पतंजलि ने खांसी और सर्दी की दवाओं के निर्माण के लिए लाइसेंस लेकर कोरोना के लिए एक दवा बनाई थी। इस बीच, बाबा रामदेव ने दावा किया है कि हमने जो दवा बनाई है, वह कोरोना पर आधारित है। उन्होंने यह भी दावा किया कि इस दवा से मरीज ठीक हो गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *