सुरत में मजदूरों की भीड़ ,भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस का लाठीचार्ज

0
सुरत में मजदूरों की भीड़ ,भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस का लाठीचार्ज

सुरत में मजदूरों की भीड़ ,भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस का लाठीचार्ज

सूरत: लॉकडाऊन शुरू होते ही, हजारों लोग गुजरात के सूरत में सड़कों पर उतर गए, मजदूरों को घर भेजने की मांग करने लगे । उन्होंने पुलिस पर पथराव भी किया। साथ ही सड़क पर खड़े वाहनों में तोड़फोड़ की। भीड़ को खदेड़ने के लिए पुलिस लाठीचार्ज करना पडा । सुरक्षा बलों ने भीड़ पर आंसू गैस छोड़ी। घटना सोमवार को वरेली गांव के बाहर हुई।

इस बीच, 50 लोगों ने सिर मुंडवाकर पंदेसरा में विरोध प्रदर्शन किया। कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि किराया हमसे लिया गया। लेकिन उसे बस में नहीं बैठने दिया गया। दो दिन पहले, पर राज्य के मजदूर उत्तर प्रदेश और झारखंड से बसों द्वारा घर लौट रहे थे। लेकिन स्थानीय प्रशासन ने हमें रोक लिया । इसलिए हम गाँव नहीं जा सकते थे। हमने कठिन परिस्थितियों में यात्रा के पैसे एकत्र किए थे। हमसे पैसे लिए, लेकिन अब हमें नहीं भेजा गया है। इसके विपरीत, हमारे पैसे वापस नहीं किए जा रहे हैं , उन्होंने आरोप लगाया।

कोझिकोड में, 200 कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर घर वापसी के लिए वाहनों को मुहैय्या करने की मांग को लेकर रस्ता रोको आंदोलन किया। कोझीकोड-मंगलौर मार्ग पर मजदूर विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। उन्होंने वाहनों को रोक दिया था। उसके बाद, पुलिस ने भीड़ को डंडों से तितर-बितर किया। ये कार्यकर्ता बिहार, झारखंड और ओडिशा के थे। सोमवार को एक विशेष ट्रेन को रद्द करने से वे नाराज थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here