कोरोना पर बड़ी घोषणा: रात 12 से देशव्यापी लॉकडाऊन; घर से बाहर निकलना 21 दिनों के लिए भूल जाएं – पीएम नरेंद्र मोदी

0
82
Nationwide lockdown from 12pm

Nationwide lockdown from 12pm

  • अगर 21 दिनों में स्थिति हल नहीं हुई तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा …
  • कोरोना से लड़ने का एकमात्र विकल्प सोशल डिस्टंसिंग है – पीएम मोदी

नई दिल्ली – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज रात एक बार फिर देश को संबोधित करते हुए देश में पूर्ण लॉकडाऊन की घोषणा की है। पीएम मोदी ने कहा कि लापरवाही से भारत को काफी नुकसान होगा। यह भी दावा नहीं किया जा सकता की यह कितना बड़ा नुकसान होगा । पिछले दो दिनों से देश के कई हिस्सों में लॉकडाऊन लागू है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। स्वास्थ्य क्षेत्र के अनुभव को ध्यान में रखते हुए, देश में महत्वपूर्ण निर्णय किए जा रहे हैं। इसीलिए आज रात 12 बजे से देशभर में लॉकडाउन जारी किया जा रहा है।

कोरोना के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के लिए फैसला जरूरी था …

हिंदुस्तान को बचाने के लिए, हर नागरिक को बचाने के लिए, अपने परिवार और आपको बचाने के लिए, आज रात से बाहर जाने पर पूरी तरह से प्रतिबंध है। राज्य, केंद्रशासित प्रदेश, हर जिले, गाँव, स्लम और गली में भी लॉकडाऊन किया जा रहा है। यह एक तरह का कर्फ्यू है। जनता कर्फ्यू से ज्यादा सख्त । कोरोना के खिलाफ निर्णायक लड़ाई करने के लिए यह कदम उठाया जाना आवश्यक है।

कोई भी सड़क पर न निकले : मोदी के पोस्टर में कोरोना का ‘सही अर्थ’ दिखाया

अगर 21 दिनों में स्थिति हल नहीं हुई तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा …जैसा कि

मोदी ने कहा, निश्चित रूप से लॉकडाउन देश के परिवारों लिए एक आर्थिक झटका होगा। लेकिन, प्रत्येक भारतीय की जान बचाना, उनका परिवार भारत सरकार और राज्य सरकार के लिए मेरी सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसलिए, मैं आपसे अनुरोध करता हूं। अपने हाथों से प्रार्थना करते हुए, कि आप इस समय देश में जहाँ हैं। वहीं रहे। मौजूदा स्थिति को देखते हुए, देश में लॉकडाउन 21 दिनों का होगा। तीन सप्ताह। मैंने आपसे पहले बात की है। उस समय, मैंने कहा, मैं कुछ हफ्तों के लिए आपके पास आया हूं। आने वाले 21 दिन हर नागरिक, हर परिवार के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में 21 दिन बहुत महत्वपूर्ण है। अगर अगले 21 दिनों में स्थिति हल नहीं हुई तो देश और हमारे परिवार 21 साल पीछे चले जाएंगे। कई परिवार हमेशा के लिए बर्बाद हो जाएंगे। यह बात कहने के लिए मै प्रधान मंत्री के रूप में नहीं बल्कि आपके परिवार के एक सदस्य के रूप में आया हूँ । 21 दिनों के लिए, यह भूल जाओ कि बाहर निकलना कैसा होता है। घर में रहना एक काम है समझकर वही काम करते रहिए ।

कोरोना से लड़ने का एकमात्र विकल्प सोशल डिस्टंसिंग है

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “जैसा कि आप देख सकते हैं कि दुनिया भर के सभी शक्तिशाली देश भी बीमारी से लड़ने में असमर्थ हैं। ऐसा नहीं है कि देश कोशिश नहीं कर रहे है, या उनके पास आवश्यक उपकरण नहीं हैं। हालांकि, कोरोना वायरस इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि सभी पूर्व तैयारियों को किसी काम का नहीं रखने दे रहा है। इन सभी देशों के अध्ययन से एक बात सामने आई है। विशेषज्ञ इस बात कोई दो रे नहीं है कि कोरोना से लड़ने के लिए सोशल डिस्टंसिंग एकमेव विकल्प है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here