उपग्रह पर भी चलेंगे स्मार्टफोन; ख़राब नेटवर्क से मिलेगी राहत

0
20
उपग्रह पर भी चलेंगे स्मार्टफोन

उपग्रह पर भी चलेंगे स्मार्टफोन

स्मार्टफोन हम सभी को परिवार और कार्यालय से 24 घंटे जुड़े रहने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। इसे कॉल करें या इंटरनेट का उपयोग करें। हालाँकि, इसकी कुछ सीमाएँ भी हैं। क्योंकि आप बिना नेटवर्क के ऐसा नहीं कर सकते। इसीलिए नेटवर्क का योगदान भी महत्वपूर्ण है। स्पेसएक्स, वनवेब और अमेज़न जैसी कंपनियों ने अब इस पर काम करने की पहल की है।इसमें किसी प्रकार की बाधा न हो और लगातार सेवा मिलती रहे । इसके लिए कंपनियां अब उपग्रहों के माध्यम से स्मार्टफोन चलाने के लिए एक नए प्रयोग के साथ आने की कोशिश कर रही हैं ताकि कोई बाधा न हो और नेटवर्क अच्छा रहे।

इन सभी कंपनियों ने इसमें निवेश भी किया। अब नेटवर्क खंडित होनेकी हमेशा सतानेवाली परेशानी का हल इसीसे मिलेगा । इसीलिए यह प्रयोग सभी के लिए अधिक लाभदायक होगा। इसी उपग्रह प्रणाली के लिए अब एक छोटे ग्राउंड रिसीविंग स्टेशन की आवश्यकता है। इसलिए, यह सेवा इस स्टेशन के माध्यम से उपलब्ध होगी। इसलिए अमेरिकी कंपनी एएसटी एंड साइंस ने पहल की। यह इस पर काम करने वाली कंपनी है। उसी उपग्रह सिग्नल तक पहुंच अब फाेनपर उपलब्ध होगी। यह सेवा मोबाइल में डिस्कनेक्ट नेटवर्क की समस्या को समाप्त कर देगी, ऐसा विश्वास संस्थापक एबेल एवेलैन ने व्यक्त किया ।

व्हाेडाफाेन, सॅमसंग जैसी कंपनियों के प्रोजेक्ट पर काम

इसी साल मार्च में टेलीकॉम कंपनी व्हाेडाफाेन और जापानी कंपनी राकुटेन ने भी इसी प्रोजेक्ट में निवेश किया था। जानी-मानी कंपनी सैमसंग ने भी प्रोजेक्ट में एवलिन को सपोर्ट करने की पहल की है। इसके अलावा, अमेरिकी टॉवर, अमेरिकी-आधारित कंपनी, दुनिया भर में वायरलेस संचार बुनियादी ढांचे पर काम कर रही है।

image:

Technology vector created by rawpixel.com – www.freepik.com

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here