चीन के इशारे पर WHO ने छिपाया कोरोना संकट; जर्मनी के ख़ुफ़िया सूत्रों का दावा

0
who-head-with-xing-ping

who-head-with-xing-ping

बर्लिन: चीन पर कोरोना संक्रमण की जानकारी छिपाने का पहलेही आरोप लगता रहा है और अब चीन पर एक नया आरोप लगा है । चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग पर विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुखों द्वारा कोरोना को वैश्विक संकट घोषित करने का आग्रह करने का आरोप लगाया गया है।

खुफिया स्रोतों का हवाला देते हुए यह खबर एक जर्मन साप्ताहिक में प्रकाशित हुई है । रिपोर्टों के अनुसार, 21 जनवरी को, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस गेब्रीस से संपर्क किया। इंसानों में संक्रमण संक्रामक बीमारी की तरह फ़ैल रहा है यह जानकारी छिपाने और इस बीमारी को देर से वैश्विक संकट घोषित करने की बिनती चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से करने का दवा किया गया है।

इस बीच, खबर को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है। उन्होंने कहा कि रिपोर्ट में कोई सच्चाई नहीं है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख डॉ. यह स्पष्ट किया गया है कि 21 जनवरी को टेड्रोस और राष्ट्रपति शी जिनपिंग के बीच कोई बातचीत नहीं हुई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने 20 जनवरी को कहा था कि कोरोना रोग एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। 22 जनवरी को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसकी घोषणा भी की थी।

अमेरिका पहले ही कोरोना मुद्दे के लिए चीन को जिम्मेदार ठहरा रहा है। इसलिए अब, जर्मनी की खुफिया सेवा की मदद से, रिपोर्टें सामने आई हैं कि चीन ने सूचना के लिए दबाव डाला है। रिपोर्ट तथ्यात्मक होने पर अमेरिकी आरोपों को बल मिलेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here