‘हमें घर जाने दो ‘, कहते हुए मजदूरों ने सूरत में आगजनी की

Share this News (खबर साझा करें)

सूरत, गुजरात: गुजरात के सूरत में एक लॉकडाऊन के कारण फंसे विस्थापित मजदूरों ने शुक्रवार को सड़कों पर आगजनी की। ये मजदूर उन्हें घर भेजने की मांग कर रहे हैं। प्रशासन पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए इन लोगों ने कई वाहनों में आग लगा दी। हालांकि, स्थिति पर नियंत्रण पाने के लिए पुलिस ने समय रहते हस्तक्षेप किया।

'हमें घर जाने दो ', कहते हुए मजदूरों ने सूरत में आगजनी की 1

सूत्रों के अनुसार, सूरत के लुसाका और डायमंड बुर्स क्षेत्र में काम करने वाले सैकड़ों प्रवासी मजदूर ,लॉकडाऊन से हैराण होकर सड़कों पर उतर आये। इस क्षेत्र में प्रवासी मजदूरों के लिए अस्थायी आवास बनाए गए हैं।

'हमें घर जाने दो ', कहते हुए मजदूरों ने सूरत में आगजनी की 2

इस समय, मजदूरों ने सड़कों को भी जाम कर दिया और पत्थरबाजी भी की । कई सब्जी गाड़ियों को आग लगा दी गई और सड़क पर टायर जला दिए गए। इसके अलावा, नागरिकों की मदद के लिए सड़कों से निकलने वाली कुछ एम्बुलेंस और अन्य गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की गई।

'हमें घर जाने दो ', कहते हुए मजदूरों ने सूरत में आगजनी की 3

काम करना शुरू करें या हमें हमारे घर वापस भेजें, यह घोषणा मजदूर दे रहे थे। यह सूचना मिलने पर, बड़ी संख्या में पुलिस घटनास्थल पर उपस्थित हुई। ओडिशा के मजदूर बड़ी संख्या में हैं ,जो यहां फंसे हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *